SEO क्या है और कैसे काम करता है | What is SEO in Hindi

what is seo in hindi

SEO क्या है ये ख्याल तो आपके दिमाग मे बहुत बार आता होगा, आज मे आपको बिलकुल ही बेसिक से बताउगा SEO होता क्या है What is SEO in Hindi,  और SEO कितने  तरह के होते है और guarantee देता हु आज के बाद आपके दिमाग मे ये प्रश्न दोबारा नहीं आयगा. क्योकि मे आपको बिलकुल ही बेसिक से बताउगा What is SEO in Hindi और इसके इसकेे में पूरी जानकारी दूंगा।

अगर आप SEO बिलकुल ही बेसिक से जानना चाहते हो तो आपको कुछ SEO के terms के बारे मे पता होना चाहिए, जो मे अभी आपको बताउगा ताकि आप step by step आसानी  से SEO के बारे में सिख पाओ।

SEO क्या होता है (What is SEO in Hindi) ये जानने से पहले कुछ महत्वपूर्ण Terms:

  • SERP: SERP का फुल फॉर्म होता है Search Engine Result Page. जब आप कुछ भी Google पे Search करते हो तो आपके सामने रिजल्ट्स आते है और जब आप निचे scroll कर के देखोगे तो वह आपको बहुत सारे page दिखेगे 1,2,3,4,5,… इस तरह से। ईसे हम search engine का रिजल्ट page कहते है जिसमे हमारे question का रिजल्ट शो होता है।
  • Keyword: आप जो कुछ भी लिख कर google पे search करते हो, उसे keyword कहते है. ईसे आप इस तरह से समझ सकते हो की आप जो भी google पे search करने के लिए लिखते हो वो keyword होता है।
  • Crawling: अगर आप ब्लॉग्गिंग करते हो तो आपको crawling के बारे मे पता ही होगा (what is crawling in seo in hindi) , लेकिन अगर नहीं पता तो मे बता दू आपको ये जानकार बहुत हेरानी होगी की आप जो भी google पे देखते हो वो किसी न किसी इंसान ने लिख कर अपने वेबसाइट पे डाला होता है और आप उन्ही के लिखे हुए ब्लॉग को google पे अपना query search कर के पढ़ते हो। जब हम अपने वेबसाइट पे कोई भी content डालते है तो उसे Google का Crawler (Reader) पढता है जिसे Spider या Googlebot कहते है और ईसी को crawling कहते है।अगर एक लाइन मे बात करू तो जब Google का Crawler वेबसाइट के content को पढता है तो उसे Crawling कहते है
  • Indexing: जब google content को crawling Process के द्वारा पढ़ लेता है तब वो उस content को index करता है। Index करने का मतलब है की Google उस Content को अपने database मे Save करता है ताकि जब भी कोई अपना Keyword search करे तो उसका answer दे पाए और ईसी प्रोसेस को इंडेक्सिंग कहते है।
  • Google Algorithm: Google Algorithm एक तरह का रूल है जो Google के द्वारा बनाया गया है, ईसे मे आपको एक उदाहरण के द्वारा समझाता हु, जैसे की अगर आप Road पे चलते हो तो आपके पास Traffic Rules होता है, जो अगर आप Follow करते हो तो आप सुरक्षित रहते हो और किसी भी दुर्घटना से अपने आप को बचाते हो। ठीक ऊसी तरह से google के कुछ रूल्स और Guidelines है जिनमे 250 से ज्यादा फैक्टर्स है जिन्हें अगर हम फॉलो करे तो हमारी वेबसाइट SERP (Search Engine Result Page) मे पहले page पे दिखने का बहुत जादा Chance बढ़ जाता है। अगर एक लाइन बात करू तो Google के द्वारा दिए  गए Guidelines को ही हम Google Algorithm कहते है।

आपको SEO के बारे मे जानने से पहले 2 और बहुत ही जादा important terms है जो समझना बहुत आवश्यक है

Organic: Organic क्या है और इसका SEO मे क्या रोला है। दरअसल SEO organic ही है अगर आपको organic नहीं पता तो आपको SEO का कुछ भी नहीं पता.
SEO क्या है वो तो मे आगे बताउगा अभी बताता हु Organic क्या होता है. दरअसल बिना पैसे खर्च किये जो भी हम करते हो वो आर्गेनिक है. आर्गेनिक वो प्रोसेस है जिसमे हम कोई paid प्रमोशन या किसी भी तरह का पैसे नहीं लगाते और अपने वेबसाइट के Rank को गूगल में बढ़ाते मे.

Inorganic: Inorganic वो process है जिनमे हम अपने पैसे खर्च करते है और किसी तरह का paid प्रमोशन और Paid Campaign चलाते  और आसान सब्दो में कह सकते है की वैसी मार्केटिंग जिनके लिए पैसे खर्च करने पड़ते है उन्हें Inorganic Marketing कहते है।

यहा तक मेने आपको कुछ important terms जिसे SEO के बारे मे जानने से पहले जिनके बारे मे जानना बहुत जरुरी था  उन terms को मेने बहुत ही आसन सब्दो मे आपको समझाने का कोसिस किया है.

SEO क्या है | What is SEO in Hindi?

SEO एक process है जिसके द्वारा हम अपने वेबसाइट के ranking को SERP (Search Engine Result Page) मे आर्गेनिक तरीको से बढ़ाते (increase) है और आप कह सकते हो first page पे लाते है।

अब मे आपसे एक question पुछुगा। क्या आप ज्यादातर जब भी google पे कुछ search करते हो तो क्या आप निचे 2 पे click कर के दुसरे page पे जाते हो, चलो मान लिया जाते भी होगे क्या आप तीसरे page पे जाते हो?

ज्यादातर लोग जब भी google पे कुछ search करते है तो वो फर्स्ट page पे ही किसी वेबसाइट को खोल कर अपना डाउट या इनफार्मेशन ले लेता है और बहुत ही कम लोग होते है जो 2 या 3 page पे जाते है और 3 के बाद तो मुसकिल ही कोई जाता होगा।

तो सोचिये अगर आपके पास एक वेबसाइट है और या आप ब्लॉग्गिंग करते हो तो आपका सबसे पहला टारगेट क्या होगा , सिंपल सी बात है की आपके वेबसाइट पे लोग आये और आपके वेबसाइट को देखे आपके ब्लॉग को देखे, लेकिन अगर आपकी वेबसाइट 1 या 2 page तक मे नहीं आती है तो क्या आपके वेबसाइट पे ज्यादा लोग आ पायेगे। निश्चित नहीं आ पायेगे, तो अब आपको SEO की जरुरत पड़ेगी ताकि आप SEO कर के अपने वेबसाइट को First Page पे ला सको.

अगर आपने वेबसाइट बना ली लेकिन आपकी वेबसाइट Google मे रैंक ही नहीं करेगा और कोई आपके वेबसाइट पे आयगा ही नहीं तो फिर आपको वेबसाइट बनाने का कोई फायदा नहीं मिलने वला है तो इसिलिय SEO करते है ताकि हम अपने वेबसाइट को google के search रिजल्ट मे अपने वेबसाइट का रैंक increase कर पाए और फर्स्ट Page पे ला पाए।

अब तक आपको बहुत ही आसन भाषा मे समझ आ गया होगा की SEO एक आर्गेनिक प्रोसेस है जिसके द्वारा google के search रिजल्ट page मे हम अपने वेबसाइट का रैंक इनक्रीस करते है जिसका main goal होता है google के 1 रैंक पर लाना मतलब google के search रिजल्ट मे सबसे टॉप पर लाना ताकि जादा से जादा लोग हमारे वेबसाइट पे आये.

Search Engine कैसे काम करता है जानने के लिए पढ़े : Search Engine कैसे काम करता है Stepwise Guide in Hindi

SEO का Full Form क्या होता है?

what is seo in hindi

SEO का फुल फॉर्म search engine Optimization होता है

SEO कितने तरीके के होते है?

Search Engine Optimization (SEO) 3 तरीके के होते है

  • On-page SEO
  • Off-page SEO
  • Technical SEO

1. On-Page SEO | What is On Page SEO in Hindi

On Page SEO एक Process है जिसमे हम अपने वेबसाइट के pages को optimize करते है. अगर साधारण भाषा मे बताऊ तो हम अपने वेबसाइट को रैंक करने के लिए हम जितने भी तरह के तकनीक का use  हम अपनी वेबसाइट के pages पे करते है उसे On Page SEO कहते है.
On Page एक ऐसा तरीका है जिससे हम अपने वेबसाइट के individual pages का optimization करते है ताकि हमारे वेबसाइट का रैंक increase हो सके. On page SEO मे हम अपने वेबसाइट के pages का title, tags, content और complete structure को अपने target keyword जिस keyword पे हम अपने वेबसाइट को रैंक कराना चाहते है और On Page SEO के techniques से optimize करते है.

On Page SEO 3 लेवल पे करते है

  • Content Optimization – अपने content को SEO टेक्निक्स और Google के गाइडलाइन्स के अनुसार अपने Content को लिखते है (जैसे अपने कंटेंट का keyword density ठीक रखना density का मतलब है अपने content मे टारगेट keyword को बहुत ज्यादा बार उपयोग नहीं करना आपको हमेसा content लिखते समय एक बात का ध्यान रखना है की आपके पुरे content मे आपका keyword 3% से ज्यादा बार use न हो मतलब अगर 100 words का आर्टिकल है तो आपकों हमेसा अपना टारगेट keyword 100 का 3% मतलब 3 बार से कम ही लिखना है ज्यादा न हो, आपके content के पहले 100 words मे 1 बार अपने keyword का उपयोग करे और important word को बोल्ड कर के हाईलाइट करते है.
  • HTML Optimization: अगर आपको पता न हो तो मे आपको बता दू, चाहे आप कोडिंग मे अपने वेबसाइट पे लिखो या न लीखो लेकिन आपकी पूरी वेबसाइट Coding से ही बनी होती है, लेकिन हम अपने वेबसाइट को WordPress जैसे (Content Management System – CMS) platform पर बनाते है जो हमारे Content को खुद ही कोदिक मे चंगे कर देता है. अगर SEO की बात करे तो HTML लेवल पे आपको title के लेंग्थ के Page के URL मे keyword रखना, headings को प्रॉपर रखना और Images मे alt tag लगाने जेसा और भी HTML SEO factor पे काम करना होता है.
  • Technical Optimization: technical optimization भी on page SEO का एक पार्ट है जिसमे हम google जैसे search engine को crawling, इंडेक्सिंग मे मदद करते है. इसके बारे मे भी मे आपको आगे बताउगा.

2. Off page SEO | What is Off Page SEO in Hindi

Off Page SEO को Off साइट SEO भी कहते है, इसमें हम अपने वेबसाइट पे काम नहीं करते. आपको Off site नाम से ही पता चल रहा होगा की Off Page SEO मे हम अपने Site के बाहर काम करते है. अगर परिभासा की बात करू तो Off Page SEO उन सारे technique को कहते है जो हम अपने वेबसाइट के अलावा दुसरो के वेबसाइट के मदद से अपने वेबसाइट के रैंक को search engine मे बढ़ाते है. Off Page मे हमे अपने वेबसाइट के लिए दुसरो के वेबसाइट पे activity करने होते है और उससे हमारे वेबसाइट की ranking google मे बढती है.

Off page SEO मे हम दुसरो के वेबसाइट पे जाके अपने वेबसाइट के लिए backlink बनाते है, अब आप पूछोगे backlink क्या होता है तो मे आपको short मे बता दू जब कोई हमारे वेबसाइट का लिंक किसी दुसरे वेबसाइट मे add होता है और उसे crawler क्रॉल करता है तो वो उसे backlink कहते है. जैसे की आपने देखा होगा कभी कभी आप एक वेबसाइट के लिंक पे click करते हो और दूसरी वेबसाइट पे पहुच जाते हो तो उसे backlink कहते है. वैसे backlink बनाने के बहुत सरे तरीके होते है जरुरी नहीं है की दुसरे वेबसाइट के आर्टिकल मे या पोस्ट मे हमारे वेबसाइट का लिंक हो केवल तभी backlink बनेगा. Backlink बनाने के बहुत सारे तरीके होते है जिसके मे मई आपको Off Page SEO पोस्ट मे जरुर बताउगा.

लेकिन अभी आप इतना जान लो की Off Page SEO मे हम backlink बनाने के साथ साथ अपने वेबसाइट के अथॉरिटी (Authority) को भी बढ़ाने पे काम करते है. Off Page SEO Ranking बढ़ाने के साथ साथ हमारे वेबसाइट की और Page की अथॉरिटी (Website Authority) को भी बढ़ता है.

3. Technical SEO | Technical SEO in Hindi

इसके बारे मे मैंने थोडा Technical Optimization मे हमने बात किया था. इस प्रोसेस मे हम अपनी वेबसाइट को crawling, indexing proper तरीके से करने पे काम करते है ताकि हमारी वेबसाइट को crawler आसानी से क्रॉल कर पाए. Technical SEO के भी कुछ फैक्टर्स होते है जिनपे हमे काम करना होता है जैसे sitemap सबमिट करना, robots.txt फाइल बनाना और भी बहुत सारे जिनसे  Search engine ( जैसे Google ) को हमारे वेबसाइट को क्रॉल करने मे आसानी होती है और हमारी Ranking जल्दी बढती है.

अगर आप ब्लॉग्गिंग बिलकुल ही बेसिक से stepwise सीखना चाहते हो तो पढ़े : Blogging kaise shuru kare 

हमने आज SEO क्या है (What is SEO in Hindi ) और SEO कितने तरह के होते है इनके बारे मे जाना है. अगर आप पहली बार DM in Hindi site के पोस्ट को पढ़ रहे हो तो मे आपको बता दू. अगर आप Complete digital marketing हिंदी मे सीखना चाहते हो तो आप इस site को फॉलो कर सकते हो. इस site पे हम आपको Digital Marketing बिलकुल ही बेसिक से हिंदी मे बताते है. और अगर आपको इस Post से रिलेटेड कोई doubt हो तो आप कमेंट के द्वारा पुच सकते हो या हमे Social Media पे फॉलो करके डायरेक्ट अपना Question पूछ सकते हो।

Leave a Comment