Keyword क्या होता है और कितने तरह के होते है | SEO Keywords in Hindi

Keyword क्या होता है – इंटरनेट पे कुछ भी सर्च करने के लिए हमे Keywords की जरुरत होती है। और अगर SEO की बात करे तो SEO में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण Keywords ही होता है। अगर आप अपने किसी वेबसाइट को या ब्लॉग को किसी भी Search Engine जैसे Google पे रैंक करना चाहते हो तो Keywords Kya Hai और Keywords Optimization क्या होता है ये जानना बहुत जरुरी है । हम अगर keyword अपने content में अच्छे से नहीं डालेंगे तो गूगल समझ ही नहीं पायेगा की हमने किस टॉपिक के बारे में लिखा है और इस वजह से हमारे targeted keyword पे पोस्ट कभी रैंक ही नहीं हो पायेगा। दोस्तों इसीलिए Keywords के बारे में जानना आपके लिए बहुत ही ज्यादा जरुरी है, तो आज में आपको डिटेल में बताउगा Keyword Kya Hota Hai और Keyword कितने तरह के होते है और गूगल या कोई भी सर्च इंजन, keyword के द्वारा हमारे कंटेंट को कैसे समझ पता है और रैंक करता है।

Contents
Keyword क्या होता है?
SEO में Keywords क्यों जरुरी है?
SEO में Keyword कितने प्रकार के होते है?
LSI Keyword किसे कहते है?
Seed Keyword किसे कहते है?
Phrase Keyword किसे कहते है?
Keyword Placement कहा होना चाहिए और कितनी बार
Keyword Research कैसे करते है

Keyword क्या होता है | Keyword Kya Hota Hai in Hindi

Keyword एक तरह का टर्म या शब्द होते है जिसे सर्च करने वाले Search Engine मे enter करते है और अपने सवाल (Query)  का उत्तर पाते है। Keyword एक ऐसे words या topic है जो हमारे पुरे कंटेंट के बारे में बताता है।

Google या फिर किसी भी सर्च इंजन पे कुछ भी सर्च करने के लिए keywords का ही उपयोग किया जाता है। आप ये भी कह सकते हो की जो भी हम गूगल पे सर्च करते है या अपने query का उत्तर ढूंढ़ने के लिए टाइप करते है वो keywords कहलाता है।

जैसे अगर आप गूगल पे सर्च करते हो “Digital Marketing तो इसमें “Digital Marketing” एक तरह का Keyword है। जैसे इस ब्लॉग पोस्ट को पढ़ने से पहले आपने “Keyword Kya Hota Hai “, “Keyword Meaning in Hindi” या ऐसा कुछ आपने लिखा होगा और सर्च किया होगा तो दरअसल ये सारे keywords है, तो जो भी आप गूगल पे अपने सवाल का जवाब जानने के लिए टाइप करते हो और सर्च करते हो वो keywords होते है।

SEO में Keywords क्यों जरुरी है?

SEO की शुरुवात ही Keywords से होती है। जरा सोचिये अगर में एक ब्लॉग पोस्ट लिख रहा हु ( Keyword Kya Hota Hai ) इसके बारे में और अगर में इस Keyword का Optimization अपने कंटेंट में अच्छे से न करू तो गूगल को कैसे पता चल पायेगा की किस टॉपिक के बारे में मैंने content लिखा है और किस Keyword पे में ब्लॉग पोस्ट को रैंक कराना चाहता हु, क्योकि हम तो केवल लिख सकते है रैंक तो नहीं कर सकते है खुद के मर्ज़ी से, रैंक तो सर्च इंजन को ही करना है जैसे गूगल को करना है तो उन्हें ये तो समझ आना चाहिए की मैंने इस ब्लॉग पोस्ट में किस टॉपिक के बारे में लिखा है।

जैसा की मैंने बताया की Keyword कंटेंट के बारे में बताता है की हमारा पूरा कंटेंट किस टॉपिक पे है तो इसके लिए गूगल या किसी भी सर्च इंजन को ये समझना बहुत ही ज्यादा जरूरी है की कोई भी ब्लॉग पोस्ट किस टॉपिक के बारे में लिखा गया है और सर्च इंजन को इस बात का पता Keyword से लगता है। अगर Keyword content में अच्छे से उपयोग किया गया है, जहा होना चाहिए वहा किया गया है, कंटेंट में जितनी बार Keyword का उपयोग होना चाहिए उतनी बार किया गया है तो कोई भी सर्च इंजन आसानी से समझ पता है की कंटेंट किस Keyword पे लिखा गया है और फिर Post रैंक भी आसानी से हो पता है।

में एक और बात बताना चाहुगा हर एक Keyword का एक Volume होता है जिसे Keyword Volume कहते है। Keyword Volume का मतलब है महीने में किसी Keyword को कितने बार सर्च किया जाता है वो उस Keyword का Monthly Volume कहलाता है, तो सोचिये अगर आपने किसी ऐसे Keyword पे अपने content को लिखा है जिस Keyword से लोग सर्च ही नहीं करते है तो आपके वेबसाइट पे traffic कैसे आएगा, इसीलिए हमे हमेशा कंटेंट लिखने से पहले Keywords के बारे में अच्छे से रिसर्च कर लेना चाहिए।

तो इस तरह से Keywords का SEO में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका होता है रैंक करने में। इसीलिए किसी भी कंटेंट को लिखने से पहले हमे Keyword Research अच्छे से करना चाहिए ताकि किसी अच्छे Keyword को टारगेट करके कंटेंट लिख सके और Keyword Optimization भी अच्छे से करना चाहिए ताकि आसानी रैंक हो पाए।

अगर आप Blogging सीखना चाहते है स्टेविसे तो ये पढ़े: Blogging कैसे शुरू करे 

SEO में Keyword कितने प्रकार के होते है | Types Of Keyword in Hindi

वैसे तो Keywords 2 तरीके के होते है लेकिन आधुनिक SEO में कुछ अलग तरीको के Keywords का भी उपयोग किया जाता है और ये SEO में बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है और रैंकिंग में भी बहुत ज्यादा फायदा करता है।

  1. Short Tail Keyword – Short Tail Keyword वैसे Keywords को कहते है जिनका लेंथ 3 या 3 शब्दो से कम हो यानि 3 या 3 शब्दो से कम वाले Keywords को Short tail Keyword कहते है। जैसे “Keyword Meaning” या “Digital Marketing” ये short tail Keywords के कुछ उदाहरण है। Short-Tail Keywords के अंडर ही एक Generic Keyword भी आता है।
    Generic Keyword का मतलब है वैसा Keyword जो आमतौर पर हम इस्तेमाल करते है जैसे “Pen”, “Shoes” और भी बहुत सारे इस तरह के Keywords को Generic Keywords कहते है। 
  2. Long Tail KeywordLong Tail Keyword वैसे Keywords को कहते है जिस Keywords का लेंथ थोड़ा ज्यादा हो यानि 3 शब्दो से ज्यादा वाले Keywords को Long Tail Keywords कहते है जैसे “Earn Money Online from Home” या “Top 10 Blogging Niche for Students” अगर आप इसमें देखे तो ये दोनों कीवर्ड्स 3 शब्दो से ज्यादा से मिलकर बने हुए है और इन Keyword में short tail Keyword भी आ रहे है जैसे Top 10 Blogging Niche for Student में “Top Blogging Niche भी आ गया जो एक Short Tail Keyword है। और Earn Money Online for Home में भी Earn Money भी आ गया जो एक Short tail Keyword है।
    इसीलिए Blogging करते समय हमे शुरुवात में Long Tail Keyword को ही टारगेट करना चाहिए क्योकि अगर Long tail Keyword पे रैंक होना शुरू हो जायेगा तो Short Tail Keyword पे खुद ही रैंक होना शुरू हो जायेगा।

अगर में आपको इस Blog post का उदाहरण लेकर समझाऊ तो केवल “Keywords” एक जेनेरिक कीवर्ड है लेकिन अगर में बोलू What is keyword in Hindi तो ये Long Tail Keyword है और अगर केवल Keywords in Hindi  बोलू तो ये एक Short Tail Keyword है।

LSI Keyword किसे कहते है | What is LSI Keyword in Hindi?

LSI (Latent Symantec Indexing) Keywords प्राइमरी Keyword से ही मिलता जुलता होता है और सर्च इंजन को एक ही कंटेंट को बहुत तरीके से समझने में मदद करता है और आप ये भी कह सकते हो की LSI keywords सर्च इंजन को एक कंटेंट को अलग अलग keywords के द्वारा समझने में मदद करता है। इसके इस्तमाल से बहुत से search engines आसानी से ये निर्णय लेते हैं की किसी user के search phrases को अलग अलग web result से कैसे अलग करे जैसे अगर कोई यूजर सर्च करता है ” Digital Marketing “और दूसरा search करता है “Online Marketing” तो दोनों को किस तरह से बेस्ट रिजल्ट देना है इसमें भी Search Engine को LSI Keyword मदद करता है.

Seed Keyword किसे कहते है?

जो भी Keyword हम सर्च करने के लिए Search Engine जैसे गूगल में Enter करते है उसे Seed Keyword कहते है। और अगर Blogging में बात करू तो जो भी keyword को हम target करते है वो Seed keyword कहलाता है।

Phrase Keyword किसे कहते है?

Phrase keyword आपको नाम से ही कुछ हद तक समझ आ रहा होगा की Phrase (मुहावरे) मतलब एक जैसे keyword, दरअसल दो अलग अलग शब्दो वाले keyword जिनका अर्थ एक ही होता हो उन्हें Phrase keywords कहते है। जैसे Digital Marketing और Online Marketing दोनों का मतलब एक ही है लेकिन दोनों के शब्द अलग है, इसी तरह के keywords को Phrase keywords कहते है।

SEO क्या होता है, जानने के लिए क्लिक कर पढ़े : SEO क्या होता है और कितने तरीके के होते है 

Keyword Placement कहा होना चाहिए और कितनी बार?

  • Target Keyword को Title में और Phrase Keyword को description में होना चाहिए
  • पहले 100 words में आपके Keywords हो तो बेहतर है
  • URL में Keywords को रख सकते हो
  • Headings में Keywords का उपयोग करना चाहिए
  • Images के Alt Tag में Keywords का होना SEO के अनुसार अच्छा है।

Keyword Content के wordcount के अनुसार 3% से ज्यादा कीवर्ड का उपयोग न करे। जैसे अगर 100 words का कंटेंट है तो 100 का 3% यानि 3 बार से ज्यादा Keywords का उपयोग न करे। कुल मिला कर Keyword Density को 2%-3% के बिच में ही रखे।

Keyword Research कैसे करते है | Keyword Research in Hindi

दरअसल Keyword Research के लिए बहुत सारे tools होते है जो कुछ तो Free tools है और कई सारे Paid tools जिनके मदद से आप आसानी से Keyword Research कर सकते हो। तो चलिए में आपको कुछ Free tools के बारे में बताता हु जिसके मदद से आप Keyword Research कर सकते हो।

Google Keyword PlannerGoogle keyword Planner एक Free keyword Research tool है जो गूगल के द्वारा प्रोवाइड कराया जाता है, जिसके मदद से आप फ्री में keyword research कर सकते हो। इसके लिए आपको Google Ads में Register करना होगा और फिर वहा से Keyword Planning option के द्वारा Keyword Research कर सकते हो।

UbersuggestUbersuggest एक Paid keyword research tool है लेकिन आपको इसमें रोज का 3 लिमिट दिया जायेगा जिसमे आप 3 बार keyword research फ्री में कर सकते हो।

Google Autosuggest Keywords – वैसे तो ये कोई टूल नहीं है लेकिन यहा से भी आप बहुत सारे keywords के Idea ले सकते हो। जैसे जब भी आप कुछ सर्च करते हो तो आपने देखा होगा निचे उसी टर्म से रिलेटेड कुछ keywords आते है आप उनपे भी article लिख सकते हो।

Step By Step Keyword Research के लिए पढ़े: Keyword Research कैसे है

Keyword Kya Hota Hai – आखिरी राय

उम्मीद है दोस्तों आपको समझ आ गया होगा की Keyword Kya Hota Hai और Keyword कितने तरह के होते है और साथ ही साथ Keyword SEO में क्यों महत्वपूर्ण है ये भी समझ आ चूका होगा। Keyword Research बहुत ही ज्यादा जरूरी है अगर आप अपने कंटेंट को Search Engine में रैंक कराना चाहते हो तो, इसीलिए कंटेंट लिखने से पहले Keyword Research जरूर करे। और अगर Keyword Kya Hai या अगर Keyword से जुडी किसी भी तरह का प्रश्न है तो आप निचे कमेंट में पूछ सकते हो या आप मुझे सोशल मीडिया पे भी फॉलो कर के भी पूछ सकते हो। आपको इस पोस्ट से अगर कुछ सिखने को मिला हो तो कमेंट में जरूर बताये।

Leave a Comment