SEO क्या है और Search Engine Optimization कैसे करते हैं? (SEO Guide in Hindi)

अगर आप अपने वेबसाइट को Search Engine जैसे Google के First Page पे Rank कराना चाहते है, तो आपको SEO के बारे में जानना बेहद जरुरी है, जैसे SEO Kya Hai और SEO कैसे करते है ये जानना बेहद जरुरी है। बिना SEO के आप किसी भी वेबसाइट को गूगल में Rank नहीं करा पाओगे।

इस आर्टिकल में हम बिलकुल ही बेसिक से जानेंगे की SEO क्या होता है और SEO कैसे करते है। और भी SEO से जुडी कई सारी चीज़ो को हम समझने की कोशिस करेंगे। और साथ ही साथ अगर आप SEO सीखना चाहते है, तो ये भी बिलकुल बेसिक बताऊंगा की आप कैसे SEO सीख सकते है वो भी Stepwise सारी चीज़ो को।

Table of Contents

SEO क्या है? | What is SEO in Hindi

SEO एक तरीका है जिसके द्वारा Website को गूगल के First Page पे रैंक कराते है। Search Engine Optimization में हम अपने वेबसाइट को अलग – अलग SEO Factors के अनुसार Optimize करते है जिससे वेबसाइट की रैंकिंग SERP में Increase होता है।

सो एक Organic तरीका है जिसमे हम अपने वेबसाइट के कंटेंट को और वेबसाइट को कई सारे SEO फैक्टर्स के अनुसार ऑप्टिमाइज़ करते है। जिससे गूगल को Website के बारे में अच्छे से समझने में, Crawling और Indexing करने में और Ranking देने में मदद मिलता है। और इन सबके वजह से वेबसाइट की रैंकिंग Increase होती है।

seo kya hai

Search Engine Optimization – आपको नाम से ही कुछ हद तक पता लग रहा होगा की इसमें हम सर्च इंजन के अनुसार अपने वेबसाइट को Optimize करते है। और सर्च इंजन का मतलब आपको गूगल समझना है, ये मैंने आपको पहले ही बता दिया है।

मतलब साधारण भाषा में Google के Ranking Factors, SEO Factors के अनुसार हमे अपने वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करना होता है जिससे वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ती है। और जब वेबसाइट फर्स्ट पेज पे रैंक करेगी तो साइट पे Organic Traffic आना भी शुरू होगा।

एक लाइन में समझाऊ तो SEO वेबसाइट के रैंकिंग को Improve करने के लिए और First Page पे रैंक कराने के लिए किया जाता है।

SEO का Full Form क्या है? | What is Full Form Of SEO?

SEO का फुल फॉर्म Search Engine Optimization होता है।

SEO वेबसाइट के लिए क्यों जरुरी है?

अगर इसे उदाहरण के तौर पे समझे तो, अगर आपके पास एक दूकान है, लेकिन अगर कोई कस्टमर ही ना आये और आपका एक भी सामान ना बीके तो क्या दूकान होने का कोई फायदा होगा? आपका उत्तर होगा, बिलकुल भी नहीं!

ठीक उसी प्रकार जब आप वेबसाइट बनाते है और उसपे काम करते है तो आपका मुख्य उदेस्य क्या होगा, यही न की आपके वेबसाइट पे visitors आये, बहुत सारे लोग आये और आपके ब्लॉग को देखे। लेकिन अगर कोई visitors ही ना आये तो क्या आपके वेबसाइट से आपको कोई फायदा हो पाएगा। बिलकुल भी नहीं!

अब यही पे काम होता है SEO का। SEO एक ऐसा तरीका है जिससे वेबसाइट को गूगल के फर्स्ट पेज पे रैंक कराया जाता है जिससे वेबसाइट पे आर्गेनिक ट्रैफिक आता है।

अब मैं एक प्रश्न आपसे पूछता हु। आप जब भी गूगल पे कुछ सर्च करते है तो क्या आप पेज 2 के बाद पेज 3,4 पे visit करते है? बिलकुल नहीं करते होंगे। यहां तक की शायद ही आप Search Result के पेज 2 पे भी जाते होंगे। ज्यादातर लोग Page 1 पे Ranking Website के भी ऊपर के 5-6 वेबसाइट तक ही जाते है और अपने द्वारा सर्च किये गए Query का उत्तर पाकर Exit कर जाते है।

तो आप जरा सोचिये की जब visitors गूगल में कुछ भी सर्च करने के बाद पेज 1 के बाद पेज 2 पे भी नहीं जाते है, तो अगर आपकी वेबसाइट गूगल के First Page पे रैंक नहीं करेगी तो लोग आपके ब्लॉग को कैसे देखेंगे, आपके वेबसाइट पे लोग कैसे आएंगे।

इसीलिए SEO किसी भी वेबसाइट के लिए महत्वपूर्ण है ताकि वेबसाइट का प्रॉपर तरिके से SEO करके Website को Google के First Page पे Rank कराया जा सके। जिससे वेबसाइट पे Organic Traffic ज्यादा से ज्यादा आये और वेबसाइट का ट्रैफिक Increase हो सके।

Hope! अब आपको बहुत ही अच्छे से समझ आ चूका होगा की SEO Kya Hota Hai और इसकी जरूरत क्यों पड़ती है।

SEO करने के क्या – क्या फायदे है? (Benefits Of SEO in Hindi)

  • Blog का SEO करने से बहुत सारे फायदे होते है, चलिए कुछ महत्वपूर्ण फायदों को देखते है।
  • SEO कर वेबसाइट को Search Engine Result Page में First Page पे rank कराया जा सकता है।
  • SEO करने से वेबसाइट का Organic Traffic बढ़ता है। और ज्यादा से ज्यादा लोग हमारे वेबसाइट को Visit करते है।
  • SEO करने से आपके वेबसाइट की Authority बढ़ती है। जब आप SEO करते है तो गूगल के नज़र में आपके वेबसाइट की Value बढ़ जाती है। जिससे आपके आर्टिकल को जल्दी रैंक करने में मदद मिलता है। और जब हम अपने वेबसाइट का Social Media Presence भी बनाते है तो हमारे वेबसाइट को अथॉरिटी और भी ज्यादा बढ़ जाती है।
  • Website का Trust Ratio बढ़ जाता है। जब आप Proper तरिके से वेबसाइट का SEO करते है और आपकी वेबसाइट गूगल के First Position पे रैंक करता है। तो गूगल का आपके वेबसाइट पे Trust बढ़ता है जिससे आपके वेबसाइट पे पब्लिश किये गए आर्टिकल जल्दी रैंक होती है क्योकि Proper SEO करने से आपकी वेबसाइट गूगल के फर्स्ट पोजीशन पे रैंक कर सकता है और इस तरह से गूगल का आपके वेबसाइट पे Trust बनता चला जाता है। और इसका फायदा रैंकिंग में देखने को मिलता है।
  • SEO करने से Website User Friendly बनता है। और User को एक अच्छा Experience प्रोवाइड कराता है। और जितना ज्यादा वेबसाइट User Friendly होगा उतना ही आपके वेबसाइट को रैंक होने में मदद मिलेगा

Types of SEO in Hindi

SEO मुख्यतः 3 प्रकार के होते है। On Page SEO, Off Page SEO और Technical SEO। तीनो तरह के SEO के अनुसार हमे अपने वेबसाइट को Optimize करना बेहद जरुरी है ताकि वेबसाइट फर्स्ट पेज पे रैंक कर पाए। तो चलिए एक-एक कर सभी को समझते है।

On Page SEO

On Page SEO एक ऐसा तरीका है जिसके द्वारा हम वेबसाइट के Internal Factors पे काम करते है। मतलब हमे अपने वेबसाइट के Webpages को बहुत सारे Techniques से Optimize करना होता है।

On Page SEO के कई सारे Activities होते है जिसके द्वारा हमे अपने वेबसाइट को Optimize करना होता है।

साधारण भाषा में बताऊ तो On Page SEO में हमे SEO Friendly Article लिखना होता है और कंटेंट को अपने Targeted Keyword से Optimize करना होता है। और भी इसी प्रकार के कई सारे Activities पे काम करना होता है जैसे Meta Tags पे काम करना और Optimize करना।

On Page, नाम से ही कुछ हद तक आपको समझ आ रहा होगा की इसमें हम अपने वेबसाइट के पेज पे काम करते है। अभी जब मैं आपको On Page SEO के कई सारे Activities के बारे में बताऊंगा फिर आपको On Page SEO बेहतर तरिके से समझ आएगा।

On Page SEO कैसे करे

तो चलिए हम कुछ On Page SEO Technique के बारे में जान लेते है जिसे फॉलो करके हम अपने वेबसाइट और ब्लॉग का On Page SEO कर सकते है।

seo kya hai

Keyword Research

On Page SEO को शुरू करने के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है Keyword Research करना। आप ये भी कह सकते है की On Page SEO का शुरुवात कीवर्ड रिसर्च से होता है।

जितना अच्छे तरिके से आप Keyword Research करोगे उतना ही बेहतर तरिके से आपका On Page SEO हो पायेगा। क्योकि मैंने आपको पहले ही बता दिया है की On Page SEO में हमे अपने Article को और मेटा टैग्स और भी कई सारे Factors को अपने Targeted Keywords के द्वारा Optimize करना होता है।

तो जितने अच्छे से आप Keyword Research करेंगे उतना ही अच्छे से और बेहतर आपका On Page SEO हो पायेगा।

Keyword Research करते समय हमे बहुत सारी बातो को ध्यान में रखना होता है। जैसे अपने Focus Keywords का चयन कैसे करे। LSI Keywords का चयन करना, Long Tail Keywords का चयन करना, और भी कई सारी बातो को ध्यान में रखना बेहद जरुरी है।

ये पढ़े: Keyword Research Complete Tutorial in Hindi

SEO Friendly Article लिखे

Keyword Research करने के बाद आपको SEO Friendly Article लिखना होता है। अगर आप SEO Friendly Article लिखते है और उन्हें Proper तरिके से Optimize करते है तो आपके ब्लॉग के रैंक करने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है। क्योकि आपने सुना तो होगा की Content is the king। तो आप SEO Friendly Article लिखे।

ये जानने के लिए पढ़े: सो फ्रैंडली आर्टिकल कैसे लिखे

Post का URL कैसे लिखे

Post के URL को जितना छोटा हो सके रखे और कोशिस करे की उनमे अपना कीवर्ड्स जोड़े।

Image Optimization

Image Upload करते समय उसे Optimize करे। Image के Size को कम रखे और ALT Tags लगाए।

Internal और External Linking करे

अपने Article में Internal Linking करे और जहा जरुरत हो External Linking करे। इससे यूजर को ज्यादा से ज्यादा नॉलेज मिल पता है और User Experience के साथ-साथ Ranking भी Improve होता है। Internal Linking से आपके दूसरे Pages का भी ट्रैफिक बढ़ता है। और ये दोनों Activities Quality SEO को भी दर्शाता है।

Heading Tags को Optimize करे

Heading Tags का Proper तरिके से उपयोग करे। H1 Tag का उपयोग पुरे आर्टिकल में केवल 1 बार ही करे।

Meta Title और Meta Description को प्रॉपर लिखे और ऑप्टिमाइज़ करे

Meta Title को अच्छे से लिखे और इसमें अपने Targeted Keywords या Phrase Keywords को लिखे। Meta Title के Length पे भी ध्यान दे।

Meta Description को भी Optimize करे और Keywords का उपयोग करे और साथ ही इसके भी Length पे ध्यान दे।

Meta Title और Meta Description आपके वेबसाइट के रैंकिंग के लिए और Quality SEO के लिए बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण है। इन दोनों को प्रॉपर तरिके से Optimize करना बेहद जरुरी है।

अगर आप On Page SEO को बिलकुल बेसिक से एडवांस तक इन डिटेल में सीखना चाहते है तो निचे दिए गए लिंक के द्वारा पढ़ के सिख सकते है।

ये पढ़े: On Page SEO Complete Tutorial in Hindi

ये कुछ Important Activities थे जिन्हे On Page SEO में Perform करते है।

Off Page SEO

Off Page SEO में हमे अपने वेबसाइट पे काम नहीं करना होता है। इसके अंदर हमे दूसरी वेबसाइट पे Backlinks Create करना पड़ता है जिससे हमारे वेबसाइट की रैंकिंग के साथ-साथ Website की Authority और Website Traffic भी बढ़ता है।

तो मैं आपको Off Page SEO के कुछ Techniques बताता हु जिनके द्वारा Off Page SEO में काम किया जाता है और बैकलिंक्स बनाये जाते है।

  • Profile Creation
  • Guest Posting
  • Forum Submission
  • Directory Submission
  • Web2.0
  • Blog Submission
  • Article Submission
  • PR Submission
  • Documents Submission
  • Image Submission

और भी कई सारे तरिके होते है जिसके द्वारा Off Page SEO में हमे दूसरी साइट पे Backlinks बनाना होता है।

ये भी पढ़े: Off Page SEO क्या है और कैसे करते है

Technical SEO

Technical SEO में हमे वेबसाइट के Technical Factors पे काम करना पड़ता है। जिससे सर्च इंजन को Crawling और Indexing में मदद मिलती है। तो चलिए मैं आपको कुछ Technical Factors के नाम भी बताता हु।

Website Loading Speed

Website के Loading Speed पे ध्यान दे। और याद रखे की Website की Loading Speed 3-4 Second से ज्यादा न हो। कोशिस करे की Website की Loading Speed 3 Second से कम हो। ये आपके Website के Ranking को Search Engine Result Page पे Improve कर देता है। और आज के समय में Website Speed बहुत ही ज्यादा Important हो चूका है। जिसका असर Directly वेबसाइट के रैंकिंग पे पड़ता है।

Sitemap Submit करना

Sitemap वेबसाइट का मैप की तरह होता है। जहा हमारे सारे वेबसाइट Data की Files होती है एक Roadmap होती है, इसके मदद से Google का Crawler आसानी से वेबसाइट को Crawl और Index करता है।

Robots.txt File

Robots.txt फाइल बनाकर हम Search Engine को बताते है की हमारे वेबसाइट का कोन से पेज को Crawl करना है और किसे नहीं करना है।

Canonical Issue या Canonicalization

Website में URLs के वजह से Canonical Issue Create हो जाता है, जिसे ठीक करना बेहद जरुरी है।

Broken Links को ठीक करना

कई बार वेबसाइट में Broken Links क्रिएट हो जाता है जिसके वजह से जब भी उस लिंक्स पे कोई क्लिक करता है तो उसे 404 या Page Not Found का Error देखने को मिलता है। तो इसे भी ठीक करना होता है।

और भी कई सारे Broken Links के Factors होते है।

ये पढ़े: Technical SEO क्या है और कैसे करे

तो ये कुछ Factors थे जिनसे हम Website के Technical SEO पे काम करते है।

यहा तक आपको समझ तो आ ही गया होगा की SEO क्या होता है (What is SEO in Hindi) और On Page SEO, Off Page SEO और Technical SEO क्या है। अब हम एक Short Summary के रूप में देखेंगे की SEO Kya Hai और क्यों करते है।

Short Summary Of SEO Meaning In Hindi

what is seo in hindi

SEO एक Organic तरीका है जिसके द्वारा वेबसाइट की Ranking को Search Result में Improve करते है। जिसका मुख्य उद्देश्य वेबसाइट को First Page के First Position पे रैंक कराना होता है।

SEO 3 तरिके के होते है जिनमे कई सारे Factors होते है। हम उन फैक्टर्स पे काम करते है जिनसे हमारी वेबसाइट Proper तरिके से सर्च इंजन के अनुसार Optimize होता है और सर्च रिजल्ट में वेबसाइट की Ranking Increase होती है।

तो ये था एक विश्लेषण था जिसमे हमने जाना SEO Kya Hai (What is SEO in Hindi), कितने तरिके के होते है और SEO क्यों करते है।

SEO से जुड़े Important Terms (Important Terms Of SEO in Hindi)

  • SERP (Search Engine Result Page): SERP का फुल फॉर्म सर्च इंजन रिजल्ट पेज होता है। अब अगर आप सोच रहे है की ये Search Engine क्या होता है, तो मैं आपको बता दू, Search Engine दरअसल एक Software होता है, साधारण भाषा में गूगल भी एक सर्च इंजन है। तो आप समझने के लिए Search Engine को गूगल समझ सकते है। अब हम SERP को समझते है।दरअसल आप जब भी कुछ गूगल में सर्च करते है तो आपके सामने बहुत सारे Results वेबसाइट के द्वारा आता है। तो उसे Google का First Page कहते है। और जब आप निचे देखोगे तो 1,2,3,4,5 इस तरह से देखने को मिलेगा। वो Google का Page 1, Page 2, इस तरह से होता है। इसे ही Search Engine का Result Page कहते है। जहा Search Engine जैसे गूगल अपने Results को दिखाता है।
  • Keywords: कीवर्ड Search Term होता है। जैसे आप कुछ भी गूगल में Type करके सर्च करते है उसे Keywords कहते है। साधारण भाषा में आप जो भी Google में कुछ भी टाइप करके सर्च करते है, तो जो भी आप टाइप करके सर्च करते है वो Keywords होता है।
  • Organic: जितने भी फ्री में मार्केटिंग करने के तरिके होते है उसे Organic Marketing कहते है। और दरअसल SEO भी एक फ्री तरीका ही है। इसमें किसी तरह का Ad. Campaign या Paid Promotion नहीं होता है।
  • Inorganic: ये एक ऐसा मार्केटिंग करने का तरीका है जिसमे पैसे खर्च होते है और Paid Promotion एवं Campaign शामिल होता है।
  • Ranking Factors: गूगल के बहुत सारे किसी भी Website को रैंक कराने के लिए Factors होते है या कहिये बहुत सारे Parameters होते है जिन्हे Ranking Factors कहते है। इन्हे आगे इस आर्टिकल में हम और भी बेहतर तरिके से समझेंगे।

अब हम कुछ ऐसे SEO से जुड़े प्रश्नो के उत्तर को देखते है जो ज्यादातर पूछा जाता है।

Frequently Asked Questions (FAQ’s)

तो चलिए SEO से जुड़े कुछ ऐसे प्रश्नो के उत्तर को जानते है जो ज्यादतर पूछा जाता है।

Local SEO क्या होता है?

जब आप Local Audience को टारगेट करते है तो उसके लिए हमे Proper तरिके से Optimize करना पड़ता है। आपको नाम से ही कुछ हद तक समझ आ रहा होगा Local और SEO, मतलब जब हम SEO Local Audience को Target करने के लिए करते है तो वो Local SEO है।

seo kya hota hai

आपने देखा होगा जब हम कुछ भी सर्च करते है “Near Me” लिख कर तो Google कई सारे Places का Map भी Serach Result में दिखता है। जिसमे कुछ Places ऊपर तो कुछ निचे आता है। तो अपने Places को Shops को उस list में ऊपर दिखाना Local SEO का पार्ट है।

SEO का क्या मतलब है इसका क्या उपयोग है?

SEO (Search Engine Optimization) – SEO Process के द्वारा कई सारे SEO Factors से वेबसाइट को Optimize करते है और SEO Activities पे काम करते है। इससे वेबसाइट की रैंकिंग Search Engine Result Page (SERP) में Improve होता है।

Kya Search Engine Optimization Ka Matlab Hi Digital Marketing Hota Hai?

Search Engine Optimization का मतलब Digital Marketing नहीं होता है। SEO एक Digital तरिके से Marketing करने का तरीका है। Digital Marketing में कई सारी चीज़े आती है SEO, SEM, App Marketing, Email Marketing, Social Media Marketing और भी कई सारे। Digital Marketing का एक Module है SEO.

Kya SEO Seekhne Ke Liye Coding Ki Knowledge Hona Zaruri Hai?

नहीं! SEO सिखने के लिए किसी भी तरह के Coding Knowledge की जरूरत नहीं होती है। अगर आप Coding बिलकुल भी नहीं जानते फिर भी आप SEO आसानी से सिख सकते है।

SEO और Internet marketing में Difference क्या है? 

Internet Marketing एक मार्केटिंग करने का तरीका है जिसमे Digital Platforms का उपयोग करते है। अब Digital Platforms बहुत सारे है जैसे Social Media, Website, Gmail और भी कई सारे तो इनमे से अगर हम किसी भी तरह से Marketing करते है तो वो इंटरनेट मार्केटिंग है लेकिन SEO एक Internet Marketing का पार्ट है। SEO के अलावा और भी Internet Marketing के काई सारे तरिके होते है।

SEO और SEM में क्या अंतर है?

SEO एक Organic या Free तरीका है जिसके द्वारा वेबसाइट के Ranking को सर्च रिजल्ट में Improve करते है। लेकिन SEM (Search Engine Marketing) एक Paid और Inorganic तरीका है जिसके अंदर पैसे लगाकर Ad. Campaign चलाते है और अपने वेबसाइट को सर्च रिजल्ट में ऊपर दिखाते है।

क्या SEO हमेशा बदलता रहता है?

हाँ! SEO एक ऐसा Field है जहा समय-समय पे  कोई न कोई अपडेट आता रहता है। जिसका असर वेबसाइट के Ranking पे पड़ता है। कभी कोई नयी टेक्निक्स Market में आती है। या कभी गूगल अपने Algorithms Launch करता है जिससे हमे SEO करने के तरीको में भी बदलाव लाना होता है। इसीलिए SEO Person को हमेशा इन सारे Updates से जुड़े रहना चाहिए। और इनपे ध्यान रखना चाहिए।

एस ई ओ का क्या उपयोग है?

एस ई ओ (SEO) एक आर्गेनिक तरीका है जिसके द्वारा वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ किया जाता है और इससे वेबसाइट की रैंकिंग सर्च इंजन रिजल्ट पेज (SERP) में बढ़ती है और वेबसाइट को फर्स्ट पेज पे रैंक करते है।

SEO प्रक्रिया की मुख्य अवस्थायें क्या हैं टेक्निकल SEO की ऑन साइट तथा ऑफ साइट समझाइये?

SEO प्रक्रिया की मुख्य उद्देश्य होती है वेबसाइट को गूगल के फर्स्ट पेज पे रैंक कराना और ज्यादा से ज्यादा Organic Traffic को अपने वेबसाइट पे लाना।

टेक्निकल SEO और ऑफ साइट SEO, दोनों ही SEO के प्रकार है जिसके अलग अलग फैक्टर्स के द्वारा वेबसाइट का ऑप्टिमाइजेशन की जाती है।

Advance SEO कैसे सीखे? | How to Learn SEO in Hindi

Advance SEO सिखने के लिए DM IN HINDI के द्वारा एक प्लेटफार्म बनाया गया है जिसके जरिये आप Advance SEO Course फ्री में कर सकते है और अपने Doubt को भी Solve कर पाएंगे। जुड़ने के लिए Contact या About Us Page के जरिये हमसे Contact करे। वैसे ऑनलाइन भी बहुत सारे SEO Course उपलब्ध है, जहा से आप सिख सकते है। या आप Digital Marketing Institute ज्वाइन करके सिख सकते है।

इस आर्टिकल में आपने जाना:

इस आर्टिकल मे मैंने आपको SEO Kya Hai और SEO क्यों करते है। सारी चीज़े इन detail में बताया है। और हमने ये भी जाना की SEO कितने Types के होते है। और कौन-कौन से SEO Techniques होते है। अगर आप Complete SEO Tutorial In Hindi में चाहते है तो DM IN HINDI Community को Join कर सकते है। इसके लिए आपको ऊपर एक DM IN HINDI का Banner दिख रहा होगा उसपे क्लिक करे। अगर आपको इस आर्टिकल से जुड़े किसी भी तरह का प्रश्न पूछना है मतलब Doubt है तो कमेंट कर जरूर पूछे और अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर बताये।

Leave a Comment