On Page SEO क्या है और कैसे करे – Stepwise Guide in Hindi

What is On Page SEO In Hindi – अगर आपको SEO की थोड़ी भी जानकारी है तो आपको पता होगा की Google या कोई भी Search Engine 3 तरीको के Base पे किसी भी Website को Rank करता है On Page SEO, Off Page SEO और Technical SEO.

आपको शायद ये पता हो, या नहीं भी हो, तो में बता दू की Google अपने ज्यादातर Algorithm On Page के Base पे ही Release करता है। अगर आपको ये नहीं पता है की Google Algorithm क्या होता है तो में बता दू की ALGORITHMS एक सेट ऑफ़ Rules है जो Google के द्वारा बनाया जाता है। जिसे follow करके कोई भी website Search Engine के First Page पे Rank कर सकता है।

क्योकि Google  ये देखता है की कोई भी वेबसाइट उसके द्वारा बनाया गया Algorithm फॉलो कर रहा है या नहीं और अगर नहीं कर रहा हो तो Google वैसे website की Ranking को Search Engine Result Page से Down कर देती है।

जैसे की उदाहरण के तौर पे आप ये तो जानते ही होंगे की हमे हमेशा अपने website पे unique content ही लिखना चाहिए तो ये भी एक On Page SEO का Rules है जिसे follow नहीं करने पे हमारी Website Rank नहीं करती। इस तरह से On-Page के बहुत सारे महत्वपूर्ण Factors है जिसे हमे follow जरूर करना चाहिए ताकि हमारी वेबसाइट Search Engine Result Page पे First Page पे Rank कर सके।

तो चलिए में आपको इस Blog Post के द्वारा On Page SEO Kya Hai  (What is On Page SEO In Hindi) के बारे में बिलकुल ही Basic से लेकर Advance level तक की जानकारी दुगा और इस Blog Post को पढ़ने के बाद अगर आपको कोई और भी Digital Marketing से जुड़े किसी भी तरह का सवाल हो तो भी में आपको last में बता दुगा की कैसे आप अपने Question को direct हमसे जुड़ के Free में पूछ सकते हो।

[table id=6 /]

On-Page SEO समझने से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण Terms

दोस्तों अगर आप On Page SEO को बिलकुल ही Basic लेवल से जानना चाहते हो की On Page SEO क्या है ( What is On Page SEO In Hindi ) तो आपको ये जानने से पहले कुछ Important Terms के बारे में जानना बेहद जरुरी है ताकि आप SEO के Technical Terms को भी आसानी से समझ पाए तो चलिए देखते हुई On Page SEO in Hindi समझने से पहले कुछ महत्वपूर्ण Terms.

  1. Search Engine Result Page: जब हम कुछ भी Google पे Search करते है तो सामने बहुत सारे Website हमारे सामने आ जाता है और जब निचे Scroll Down करोगे तो देखोगे निचे 1, 2, 3, .. बहुत सारे Pages पे जाने का option आता है और जब आप कुछ भी Search करते हो तो आप Search Engine के First page पे रहते हो, तो आपके सामने जो हर एक पेज वेबसाइट के द्वारा Result show करता है उसे Search Engine Result Page कहते है।
  2. Algorithm: Algorithm गूगल के द्वारा बनाया गया Set of Rules है और बहुत सारे Factors है जिसे Follow करके हम अपने Website को Search Engine Result Page में Rank करा सकते है। Search Engine के द्वारा बनाये गए Rules को ही Algorithm कहते है।
  3. Web Pages: वेब पेजेज का मतलब होता है website के Pages। एक website में जितने भी Blogs या कुछ भी होते है उनके Separate Pages होते है जिन्हे Web Pages कहते है।
  4. Optimize / Optimization: Optimize या Optimization का मतलब होता है सुधारना या SEO के Factors के अनुसार अपने Web Pages को ठीक करना और सुधारना।
  5. Spider: Spider गूगल का Reader है जो हमारे website पे Publish किये जाने वाले Content को पढता है और Content के बारे में समझ पाता है।
  6. Search Engine: Search Engine एक Software है जिसके द्वारा अपनी Search की गयी चीज कुछ ही seconds में जान सकते है जैसे Google एक Search Engine है जिसपे आप कुछ भी Search करके तुरंत अपने Search किये गए Query का उत्तर जान पाते हो।
  7. SEO Factors: SEO Factors आपको नाम से ही पता चल रहा होगा सो मतलब Search Engine Optimization और factors मतलब वो factors जिससे अपने website को बहुत सारे Search Engine के factors के द्वारा Optimize (सुधारना) करना। SEO factors वो factors या वो Steps है जिन्हे Follow करके हम अपने वेबसाइट को Optimize करते है। जैसे एक Web Pages में Ranking के लिए क्या होना चाहिए और क्या नहीं होना चाहिए ये सारी चीज़े।

On Page SEO क्या है | What is On Page SEO In Hindi

What is on page seo in hindi

On Page SEO एक Website और Individual Web Pages के Optimization (सुधारने) का Process है जिसके द्वारा Website या किसी Individual Web Pages की रैंकिंग Search Engine Result Page में बढ़ता है। साधारण भाषा में Web Pages को Optimize (सुधार) करने के तरीके को On-Page SEO कहते है।

On Page SEO वेबसाइट में चीज़ो को जैसे Content, Title Tag, Header Tags (Headings) और बहुत सारे Ranking Factors जिसे ठीक करने या जिसे Follow करने से हमारा Web Page गूगल में Rank कर पाए।

इस Process में हमे अपने Website के Internal चीज़ो को ठीक करना होता है ताकि जब Google का Spider जो हमारे Content को पढता है वो पढ़े तो हमारे Web Pages में कोई कमी न मिले और जो Search Engine के द्वारा निर्देशित SEO Factors है उनसे Match कर पाए जिनसे हमारा Website के Pages गूगल में Rank कर पाए।

On Page SEO में हमे अपने Website के बहुत सारे Factor पे काम करना पड़ता है। आपको (On Page) नाम से ही पता चल रहा होगा की “ON THE PAGE मतलब On Page में हम अपने Website के Pages पे काम करते है और अपने Website के Pages को Optimize (सुधारते) है और On Page के बहुत सारे Factors के द्वारा अपने Website के Pages को Optimize करते है। 

On-Page SEO के सारे  factors आपके द्वारा ही control किया जाता है जिसे आप अपने Website पे Implement कर सकते है, इसलिए इसे हम खुद आसानी से कर सकते है और इसे On Page SEO को सही तरीके से करना बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण होता है क्योकि Search Ranking में इसकी बहुत ज्यादा भूमिका होती है।

On Page SEO और Off Page SEO में क्या अंतर है | Difference Between ON PAGE SEO and OFF PAGE SEO In Hindi

On Page SEO हम अपने वेबसाइट के Individual या यु कहिये की अलग अलग Pages को Optimize (सुधारते) करते है और बहुत सारे On Page SEO Factors को ध्यान में रखते हुए हम अपने Website के Pages को ठीक करते है और SEO friendly Page बनाते है। 

Off Page SEO के द्वारा हमे दूसरे वेबसाइट से backlink मिलता है जिससे हमारे Website का Authority बढ़ता है और Off Page SEO में हमे अपने Website पे काम नहीं करना होता है, बल्कि इस तकनीक में किसी दूसरे वेबसाइट के जरिये हमारे Web Pages की Ranking Search Engine Result Page में बढ़ता है और साथ ही साथ दूसरे वेबसाइट से मिले backlink के वजह से हमारे Website की Authority बढ़ती है।

अगर आपको नहीं पता की Backlink क्या होता है तो Detail me जाने: Backlinks क्या होता है 

साधारण भाषा में बताऊ तो On Page में हमे अपने Website के Pages पे काम करना होता है और उन्हें Optimize करना होता है जबकि Off Page SEO में हमे अपने Website पे काम नहीं करना पड़ता, इसमें हमे दुसरो के Website के द्वारा अपने Website के लिए backlink लेने का काम करना पड़ता है और जिससे Quality Backlink मिलने से हमारे Web Pages की Ranking, Search Result Page में बढ़ता है।

On Page SEO कैसे करे | On Page SEO tutorial in Hindi

On page seo kaise kare

On Page SEO में वो सारी Techniques होते है जो हम अपने Web Pages को ठीक करते है और SEO Friendly बनाने के लिए उपयोग कर सकते है जिससे Website की Ranking Search Engine Result Page में Improve हो सके।

On Page SEO में Basically वेबसाइट के Internal Structure और Content के Quality को Improve करने के लिए काम करना होता है जिससे Users जो हमारे Website में Enter करे उसे ज्यादा से ज्यादा Value मिल पाए और ज्यादा से ज्यादा अच्छे उसके द्वारा Search किये गए Query का Information मिल पाए।

जैसे की वेबसाइट का Structure HTML पे बना होता है तो हमे हमारे वेबसाइट के Pages के सारे HTML ठीक करने होते है जैसे WordPress एक Content Management System based Platform है। जहा आप अपना Website बना के आसानी से Website को Launch कर सकते हो और इसमें आपको HTML की जानकारी नहीं भी होगी फर भी आपको केवल Normal Text को ठीक करना होता जिससे HTML खुद ही ठीक होता चला जाता है।

ON Page SEO  के बहुत सारे Factors है जिनपे हमे काम करना होता है जिससे हमारी Website पे ज्यादा से ज्यादा Organic traffic आये। अगर देखा जाये तो Organic traffic आने में या Website के Ranking में सबसे ज्यादा योगदान On Page SEO का ही होता है।

आपने देखा होगा की बहुत सारे Website बिना किसी Backlink के ही Rank कर रही होती है क्योकि उनका ON PAGE SEO बहुत ही ज्यादा Strong होता है उसने On Page SEO को बहुत ही अच्छे से Optimize किया होता है।

अब आप खुद ही सोचो की बेसक आपने बहुत ही अच्छा Content लिखा और बहुत सारी Backlink भी बनाये। लेकिन अगर Title अपने Content के Relevant नहीं डाला जिसमे आपके Targeted Keyword ही नहीं हो तो क्या Search करने वाले Users आपके Web Pages का Title को देख कर आपके Website में Enter करेंगे।

ये तो आपको भी पता होगा की कोई भी Users किसी भी वेबसाइट में 2 ही चीज़ो को देख कर Enter करते है पहली Title और दूसरा Description

आप भी जब भी कुछ गूगल पे Search करते हो तो आप भी वेबसाइट के Title और Description को देख कर ही बहुत सारे Website में से  किसी एक Website पे क्लिक करते होंगे जिससे आपको लगता होगा की इसमें आपके द्वारा पूछे गये Query का उत्तर मिल जायेगा।

तो अगर आपने अपने Title और Description को अच्छे से Optimize नहीं किया होगा तो क्या लोग आपके Website पे Click करेंगे क्योकि ये भी तो ON THE SITE ही करते है जो On Page का part है तो इस तरह से आपकी वेबसाइट rank करते हुए भी ट्रफिक नहीं आ पाएगी।

On page SEO करने के लिए आपको On page SEO के factors के बारे में पता होना चाहिए ताकि आप उन् चीज़ो को SEO factors के अनुसार ठीक कर पाओ। जब आपको On page SEO factors के बारे में पता होगा तो आप आसानी से उन चीज़ो को ठीक कर पाओगे।

जैसे की मैंने आपको ऊपर Paragraph में बताया की आपके Keywords अगर आपके Meta Title में नहीं होंगे तो Users को नहीं लगेगा की आपके Website से उनके द्वारा पूछे गए Query का उत्तर मिल पायेगा तो Title में अपने Targeted Keywords या Keywords Phrase को डालना होगा।

ये On page SEO का बहुत महत्वपूर्ण factors है। इसी तरह से और भी बहुत सारे On Page SEO के महत्वपूर्ण factors है जो में आपको On page SEO Techniques in Hindi में कुछ Important factors के बारे में अभी बताउगा।

वैसे तो On Page SEO in Hindi के बहुत सारे अलग अलग SEO Factors हैं जिन्हें अच्छे Ranking के लिए Optimize किया जाता है , लेकिन में आपके साथ कुछ मुख्य महत्वपूर्ण ON Page के SEO Factors को आपके साथ Share कर रहा हु जिससे आप अपने वेबसाइट को Optimize कर सकते हो और इनसे Ranking में बहुत मदद मिलेगी।

  • Keyword Research
  • Title Tags
  • Header Tags Optimization (Headings)
  • URL Structure
  • Keyword Density
  • Alt Tag for Images
  • Meta Description
  • Website Speed
  • Content Duplicacy

अगर आपकी वेबसाइट WordPress पे है तो आप Yoast SEO या Rankmath SEO Plugin भी Install कर सकते हो जो आपको On Page SEO करने में बहुत ज्यादा मदद करेगा। Yoast Plugin में ये सारे Parameters खुद ही बता देगा की आप सही कर रहे हो या गलत और क्या Improve हो सकता है सारी जानकारी देगा।

जिस भी Factors को आप अच्छे से Optimize करोगे तो Green Sign बताएगा और अगर Improve की जरूरत होगी तो Orange और अगर बिलकुल ही अच्छे से अगर Optimize नहीं किया होगा तो Red Sign बताएगा।

इनके अलावा भी बहुत सारे On Page SEO के factors होते है जिनपे हम काम कर सकते है लेकिन ये उनमे से मुख्य है जिन्हे ठीक रखना आवश्यक होता है। तो चलिए देखते है ये On Page SEO factors क्या होता है और इसे कैसे Optimize करते है।

On Page SEO Techniques in Hindi (Factors) | On Page SEO in Hindi

चलिए थोड़ा Detail में देखते है ऊपर बताये गए महत्वपूर्ण On Page SEO Techniques क्या होता है और इन SEO Factors में क्या करना होता है जिससे हमारी वेबसाइट Search Engine में Rank कर पाए। चलिए एक – एक कर के सारे On Page SEO के Factors को जानते है और समझते है की Stepwise On Page SEO Kaise Kare.

#1. Keyword Research:

Keyword Research एक प्रक्रिया जिसके द्वारा हम अपने पोस्ट के लिए टार्गेटेड कयोवर्ड का रिसर्च करते है जिसपे हम अपने वेबसाइट को रैंक करना चाहते है। जैसे की (On Page SEO के बारे में जानने के लिए बहुत सारे लोग अलग अलग तरीको से सर्च करते होंगे जैसे कोई करता होगा On Page SEO Kaise kare तो कोई करता होगा On Page SEO course in Hindi तो कोई करता होगा On Page SEO in Hindi.

इसीलिए ये बहुत जरुरी है की हम अपने Target Keyword का Research करे और उसके अनुसार ही अपने कंटेंट को लिखे। ये On page SEO का सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण फैक्टर है क्योकि जब आपको Keyword का पता होगा तभी आप On page SEO को आगे कर पाओगे और अपने Content को Targeted Keyword से Optimize करके Rank करा पाओगे।

ये पढ़े: Keyword Research क्या है और कैसे करे

#2. Title Tags:

Title Tag सबसे पहला चीज़ है जो Users को Query Search करने के बाद दीखता है और Title को देख कर ही Users decide करता है की किसी Particular Website पे click करने पे उसके द्वारा पूछे गए Query का उत्तर मिल पायेगा या नहीं और Title को देख कर ही Users वेबसाइट पे क्लिक करता है।

इसीलिए SEO Point of view से देखा जाये तो Title Tag में हमारा Keyword होना चाहिए, जिसपे हम अपने Web Pages को Rank करना चाहते है, क्योकि Keyword वो Terms है जो कुछ ही Words में आपके पुरे Content को Describe कर देता है।

SEO Title

इसीलिए हमे अपने Title को ऐसा रखना चाहिए जिससे Users को Attractive लगे और Title देख कर Website में Enter करे। हमे Title में अपने Keywords को या Keyword Phrase को अपने Title में उपयोग करना चाहिए।

#3. Header Tags Optimization (Headings):

Header Tags का मतलब है हेडिंग्स – आप जो Headings देखते हो वो ज्यादातर हमारे Main Keywords के ही बारे में होता है या Main Keywords के topic का ही Sub Parts होता है तो हमे Headings में Targeted Keywords का या Keywords Phrase का उपयोग करना चाहिए ताकि Google को समझ आ पाए की आपने किस Keyword को Target किया है।

और किस Particular topic के बारे में पुरे Content को लिखा है। इसीलिए कोसिस करना चाहिए की कुछ Headings में अपने Keywords का उपयोग करना चाहिए और Keyword Phrase का भी।

साथ ही साथ Header Tag का उपयोग बहुत भी अच्छे से करना चाहिए जैसे पुरे आर्टिकल में केवल 1 ही H1 होना चाहिए और फिर H2-H6 के बिच में ही उपयोग करना चहिए।

हमे Headings का भी ध्यान रखना चाहिए की हमेसा Main topic के niche Sub topic को  लिखे और Proper Headings में लिखे जैसे अगर Main topic को H2 में लिखते हो तो उसके Sub topic को H3 में लिखे।

इस तरह से Headings का उपयोग अच्छे से करे और साथ ही साथ Keywords का भी Headings में उपयोग अच्छे से करे

#4. URL Structure:

URL Structure को हम आम भाषा में Link के नाम से जानते है। On Page SEO के अनुसार हमे अपने Web Pages के URL में Keyword रखना चाहिए या Main Keywords के कुछ words को जरूर रखना चाहिए।

जैसे की में On Page SEO Kya Hota Hai (What is On Page SEO in Hindi ) Keyword पे लिख रहा हु तो मैंने URL में “On Page SEO Hindi” लिखा है। इसी तरह से आपको अपने URL में Keywords के कुछ Words को जरूर डालना चाहिए।

और कोसिस करे की आपका URL 4-5 Word से ज्यादा का न हो मतलब URL बहुत ही ज्यादा लम्बा न बनाये। URL में Keywords डाले और Short रखे।

#5. Keyword Density:

Keyword Density का मतलब है की आपने एक Content में अपने Focus Keyword को कितने बार उपयोग किया है उसे Keyword Density कहते है। Best SEO Practices के अनुसार हमे अपने Articles के words का 3% तक ही Keywords का उपयोग करना चाहिए।

3% से ज्यादा बार Keyword का उपयोग करने से फिर Google आपको Negative Ranking देगा क्योकि Google इसे Keyword Stuffing कहता है ( आम भाषा में आप इसे Spamming कह सकते है ).

इसे एक उदाहरण के द्वारा समझते है, जैसे की अगर आप 100 Words का एक Content लिखते हो तो 100 का 3% तक ही आप Keywords का उपयोग कर सकते हो मतलब 3 बार। तो इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए की Keyword की Density 3% से कम ही होना चाहिए इससे ज्यादा नहीं होना चाहिए।

#6. Alt Tag for Images:

दरअसल हमारे Publish किये गए Content को तो Google का Reader जिसे Spider कहते है वो पढ़ लेता है की Content किस बारे में है लेकिन Images को कोई भी Search Engine नहीं पढ़ पता है और ये नहीं पता लगा पता है की Images किस चीज़ का है और Images के द्वारा Writer क्या बताना चाहता है, तो इसी के लिए हमे Images में Alt Tag लगाना पड़ता है।

Alt Tag में Images के बारे में लिखते है जैसे अगर Images On Page SEO के बारे में है तो Images के Alt Tag में लिखना होगा ” On Page SEO” इस तरह से Images के बारे में Alt Tag में लिख कर हम Google को या किसी भी Search Engine को बता सकते है की हमारा Images किस चीज़ के बारे में है और Alt Tag को पढ़ के ही हमारे Images के बारे में Search Engine का Reader (Spider) Images के बारे मे समझ पता है।

इसीलिए जब भी कोई Images अपलोड करे तब उस Images में Alt Tag का प्रयोग जरूर करे।

#7. Meta Description:

Meta Description एक तरह से हमारे पुरे Content को कुछ Characters मे Describe करता है। जैसे की आपने देखा होगा Search करने पे Title के निचे 1-2 line मे लिखा हुआ होता है, उसे Meta Description कहते है।

SEO meta description

Meta Description मे हमे कोसिस करना चाहिए की 1-2 line मे लिख कर उसमे अपने Keyword को भी लिखे। Meta Description SEO बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है क्योकि Search करने वला Users, Title के बाद आपके Meta Description को ही देखता है। इसीलिए Meta Description अच्छे से Attractive लिखे और साथ मे Keyword का भी उपयोग करे।

Meta Description मे Keywords का उपयोग करे और Meta Description 50-155 Characters से ज्यादा न लिखे।

#8. Website Speed:

कुछ समय से Website का Loading Speed, SEO मे बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण Ranking Factor बन गया है और अब ज्यादातर Website वही Rank करते है जिसका Loading Speed अच्छा है।

हमे अपने Website के Speed को ठीक करना चाहिए। अगर Website Load होने मे 3 Second से ज्यादा समय लग रहा है तो उन्हें Optimize करना बेहद जरुरी है।

WordPress मे बहुत सारे Plugins है जिन्हे आप उपयोग करके अपने Website की Speed कुछ हद्द तक बढ़ा सकते हो। इसके लिए आप Smush Plugin, WP Rocket Plugin, जैसे और भी बहुत सारे WordPress Plugins का उपयोग कर सकते हो और अपने Speed को Optimize कर सकते हो।

Website की Loading Speed 3 सेकंड से कम होनी चाहिए।

#9. Content Duplicacy:

ये तो आपको भी पता होगा की Blogging के Field मे Content को King कहा जाता है। Article Rank होने के लिए ये बेहद जरुरी है की आपका Content यूनिक हो। ऐसा नहीं होना चाहिए की कही से Copy Content थोड़ा Change कर के अपने Website मे उपयोग करलो। इससे आपकी Website Rank नहीं हो पाएगी।

इसीलिए Content का हमेसा ध्यान रखे की वो Copied न हो। हो सकता है अगर किसी से आप Content लिखवाते हो तो वो Content कही से Copy कर के आपको दे दे. इसीलिए ध्यान रखे की Website पे Publish करने से पहले Content के Duplicacy का Check जरूर करले।

इसके लिए बहुत सारे Online tools है जिससे आप Copy Content को Check कर सकते हो। आप केवल Plagiarism Checker Tool लिख कर उन tools का उपयोग कर सकते हो।

Rank होने के लिए Unique Article का होना बेहद जरुरी है।

ये भी जाने: Off Page SEO क्या है और कैसे करे 

Conclusion

वैसे तो On Page SEO के और भी बहुत सारे Factors होते है लेकिन मैंने आपको कुछ महत्वपूर्ण Factors के बारे मे बताया है जिन्हे Ranking के लिए Optimize करना बहुत ही ज्यादा जरुरी है। मैं आपको और भी बहुत सारे On Page SEO Factors के बारे मे इस Blog Post को Update करके बताता रहुगा, इसके लिए आप Notification का Pop Up को Accept कर सकते हो ताकि जब हम इस Post को Update करे आपके पास इसकी Notification आ जाये।

आशा करता हु आपको समझ आ चूका होगा What is On Page SEO in Hindi और On Page SEO Kaise Kare. हमे अपनी राय Comment के जरिये जरूर बताये और अगर आपको कोई प्रश्न पूछना हो तो आप Comment के जरिये या निचे दिए गए सोशल मीडिया के लिंक के जरिये अपने प्रश्न को हमसे पूछ सकते हो। 

Leave a Comment